तेत्तिरीय उपनिषद

कृष्ण याजुर्ववेद के तेत्तिरिये अरुणायंक के सांतवे, आंठ्वे और नौवे अध्याय शिला वल्ली, ब्रह्मानंद वल्ली तथा भृगु वल्ली का नाम तेत्तिरीय उपनिषद दूसरी व तीसरी वल्ली में विशुद्ध ब्रह्म विधा का निरूपण किया गया है|

Download (PDF, 37KB)